14 साल की ममता ने घर आई बारात लौटा दी

ग़रीब घर की लड़की जब बड़ी होने लगती है, तो रातों की नींद उड़ने लगती है बाबू”. ये शब्द हैं नवीं कक्षा में पढ़ने वाली 14 साल की ममता के माता-पिता के. ममता की शादी तय हुई थी लेकिन उसने कम उम्र में शादी से इनकार कर दिया. इसके बाद से झारखंड में गुमला के… Read More »

क्या मंगल ग्रह पर कभी ज़िंदगी थी?

मंगल ग्रह, हमारी धरती का सबसे क़रीबी पड़ोसी है. अंतरिक्ष में दूसरी दुनिया तलाशते इंसान को इस लाल ग्रह से इस मामले में काफ़ी उम्मीदें हैं. तमाम देशों की अंतरिक्ष एजेंसियां लाल ग्रह में ज़िंदगी तलाश रही हैं. मगर, दिक़्क़त हैं वहां के हालात. जो ज़िंदगी के पनपने के लिहाज़ से काफ़ी सख़्त हैं. ये… Read More »

एक अख़बार की मौत की घोषणा

पाठकों की गिरती संख्या के कारण ब्रिटेन के अग्रणी अख़बार ‘द इंडिपेंडेंट’ ने अपना प्रिंट एडिशन बंद कर पूरी तरह से डिजिटल कॉपी छापने की घोषणा की है. शुक्रवार को इस निर्णय की घोषणा करते हुए कहा गया कि अगले महीने से अख़बार का केवल डिजिटल एडिशन ही जारी होगा. ईएसआई मीडिया के मालिकाना हक़… Read More »

आज़ादी का दमन करने वाले देशद्रोही

दिल्ली के जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय में छात्र संघ के अध्यक्ष कन्हैया कुमार की गिरफ़्तारी के बाद शनिवार को कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी वहां पहुंचे. नारों के बीच उन्होंने जेएनयू में छात्रों को संबोधित किया और कहा कि “वो आपका दमन कर रहे हैं लेकिन वे नहीं जानते कि ऐसा करके वे अपको और भी मज़बूत… Read More »

चुपके चुपके पहले

चुपके चुपके पहले वो ज़िन्दगी में आते हैं; मीठी मीठी बातों से दिल में उतर जाते हैं;, बच के रहना इन हुस्नवालों से यारो; इन की आग में कई आशिक जल जाते हैं।

भूलना चाहो तो भी याद हमारी आएगी

भूलना चाहो तो भी याद हमारी आएगी, दिल की गहराई मे हमारी तस्वीर बस जाएगी. ढूढ़ने चले हो हमसे बेहतर दोस्त, तलाश हमसे शुरू होकर हम पे ही ख़त्म हो जाएगी

याद रखने के लिए आपकी कोई चीज चाहिए

याद रखने के लिए आपकी कोई चीज चाहिए, आप नहीं तो आपकी तस्वीर चाहिए, आपकी तस्वीर हमारा दिल बहला न सकेगी, क्योकि वो आपकी तरह मुस्कुरा न सकेगी!!

सपने उन्ही के पूरे होते है

सपने उन्ही के पूरे होते है, जिनके सपनो मे जान होती है. पँखो से कुछ नही होता, ऐ मेरे दोस्त!! होसलो से ही तो उड़ान होती है

दुनिया में किसी से कभी प्यार मत करना

दुनिया में किसी से कभी प्यार मत करना, अपने अनमोल आँसू इस तरह बेकार मत करना, कांटे तो फिर भी दामन थाम लेते हैं, फूलों पर कभी इस तरह तुम ऐतबार मत करना..

प्यार करके कोई जताए ये जरूरी तो नही

प्यार करके कोई जताए ये जरूरी तो नही, याद करके कोई बताये ये जरूरी तो नही, रोने वाला तो दिल में ही रो लेता है, आँख में आंसू आये ये जरूरी तो नही..